वो पहली बारिश…

Wo pehli baarish by Elysian Bookgraphy cover pic

गर्मी की उस रोज़ कमरे में बैठी किताब पढ़ रही थी,
लू और उमस से परेशान खिड़कियों पर परदे डाल रखे थे।
बाहर का हाल बेहाल था, सूरज झुलसा देने वाली आग निकाल रहा था।
शांत गर्मी की दोपहरी में बस पढ़ते पढ़ते कब आँख लग गई पता ही नहीं चला।
कुछ देर बाद, एक ठंडे झोंके से जब आँखें खुली तो देखा की परदे उड़ रहे थे, खिड़कियां खुल गयी थीं और उनसे आती ठंडी हवाएं मुझे अपनी ओर आकर्षित कर रहीं थीं।
थोड़ी देर पहले लू वाली जिस हवा की वजह से खिड़कियां बंद की थीं अब उसी हवा को चेहरे पर महसूस करने का मन हो रहा था। परदे हटाए तो देखा की मौसम ने करवट ले ली थी।।
मेघ घिर आये थे, मानो सूरज ने उनके सामने समर्पण कर दिया हो, कोयल की कूक सुनाई दे रही थी। शायद मैंने ध्यान बहुत देर बाद दिया था की स्वतः ही होंठों पर एक मुस्कुराहट सी छलक आयी थी और आँखें ख़ुशी से चमक उठी थी, बिलकुल महबूब से मिलने की ख़ुशी सी।
बादलों की गड़गड़ाहट से यूँ लगा मानो इसी आवाज़ की प्रतीक्षा थी कबसे दिल को। इतने दिनों की दूरी के बाद अब तो मिलने की घड़ी आयी थी। एक पल भी गवाए बिना, कमरे से निकल सीढ़ियों से होती हुई छत की ओर भागी।
नंगे पाओं छत पहुंची तो लगा प्रियतम से सामना हुआ, बूँदें गिरने लगीं थीं, कुछ ऐसा जादू था उस बरसात की आशिकी में, की वो एहसास लेने बस ज्यूँ की त्यों ही खड़ी रही बेसुध। उन बूदों के स्पर्श ने जैसे किसी औषधि सा काम किया, सब कुछ धुल सा गया, मन भी और तन भी। वे सच ही कहते हैं की “धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है”!!
पहली बारिश का एहसास सच में बहुत ख़ास होता है।
ऐसी थी उस साल के मानसून की पहली बारिश !!
-एलीसिअन बुकग्राफी

क्या आपको भी मानसून पसंद है?
कमेंट करके बताएं

Published by Elysian Bookgraphy World

Bibliophile | Book reviewer | Writer |

2 thoughts on “वो पहली बारिश…

  1. Wow! Did it rained ? After so long I read something in Hindi.. loved it..
    नंगे पाओं छत पहुंची तो लगा प्रियतम से सामना हुआ
    Also I read in the voice that comes in the song Morey Piya! Thanks for sharing 🙏

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: